पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? Post office franchise kaise le 2022

पोस्ट ऑफिस या डाकघर लोगो द्वारा प्रेषित लिफाफों, मनी ऑर्डर, सामान और पोस्ट कार्ड को गंतव्य स्थल तक पहुंचाने का कार्य करते हैं। डाकघर पोस्ट कार्ड और डाक टिकट के अलावा बचत योजनाएं, पेंशन सेवाएं, बैंक खाता खोलना, बीमा करना और लोकर आदि की सुविधाएं भी देता हैं।

पोस्ट ऑफिस एक सरकारी कार्यालय होता है, हालांकि अब इसकी फ्रेंचाइजी भी मिलती है। इसलिए वर्तमान में कई लोग पोस्ट ऑफिस एजेंट बनाना चाहते है, इसलिए वे इंटरनेट पर पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? (Post office franchise kaise le) इसका जवाब ढुंढ रहे है।

भारत देश में अब तक लगभग 1.55 लाख पोस्ट ऑफिस की ब्रांचे हैं, जो डाक का कार्य कर रही है। अगर आप भी पोस्ट ऑफिस फ्रेचाइजी लेना चाहते है और पोस्ट ऑफिस एजेंट बनाना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार साबित होने वाली है

पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के लिए आपके पास पर्याप्त जानकारी होनी चाहिए। जैसे Indian post office franchise कैसे लें, इसमें लागत कितनी आती है? कमीशन कितना मिलता है और इसके लिए आवेदन कैसे करे इत्यादि।

पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने, Post office franchise kaise le, पोस्ट ऑफिस एजेंट नियम

फुल आर्टिकल एक नजर में

पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? Post office franchise kaise le 2022

पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के लिए आप पोस्ट विभाग की स्कीम के अनुसार फ्रेजाइजी ले सकते है, हालांकि इसके लिए आपको आवेदन करना पड़ेगा। India Post Franchise की स्कीम के तहत आपको काफी अच्छा लाभ दिया जाता है, और फ्रेंचाइजी लेने में ज्यादा लागत की भी जरूरत नही होती है।

1. पोस्ट ऑफिस एजेंट कौन नहीं बन सकता है?

फ्रेंचाइजी आउटलेट और पोस्टल एजेंट फ्रेंचाइजी के लिए अगर आप एप्लाई करना चाहते हैं, तो आपके परिवार का कोई भी सदस्य पोस्ट ऑफिस में कार्यरत नही होना चाहिए। मतलब अगर आपके परिवार का भी कोई सदस्य पोस्ट ऑफिस विभाग में कार्य करता है तो वो व्यक्ति उस डिवीजन का डाक एजेंट बनने के लिए योग्य नही होता है।

2. Post office franchise के प्रकार?

हमारे देश में Indian Post Office Franchise दो प्रकार की हैं

  1. फ्रेंचाइजी आउटलेट
  2. पोस्टल एजेंट

1. Franchise Outlet (काउंटर सर्विसेज)

भारतीय पोस्ट विभाग की इस फ्रेचाइजी में सिर्फ काउंटर से संबंधित सेवाएं दी जाती है, जिसमें डाक टिकट और अन्य स्टेशनरी की बिक्री सुविधाओं पर ध्यान दिया जाता है। जबकि डिलीवरी और स्थानांतरण संबंधी सेवाए विभाग स्वयं देखता है। इस प्रकार की फ्रेंचाइजी केवल उन्ही जगह पर खोली जाती है, जहां पर भारतीय डाक विभाग द्वारा डाकघर नही खोले जा सकते हैं।

यह India post franchise एक तरह की मिनी पोस्ट ऑफिश होती है, जहां पर स्पीड पोस्ट, मनी ऑर्डर, डाक पोस्ट और अन्य दस्तावेज की बुकिंग आदि से संबंधित सुविधाएं दी जाती है। इस Indian post office franchise के लिए कोई भी व्यक्ति या संस्थान जैसे दुकान वाला, किराना स्टोर, पान वाला या अन्य कोई भी स्टोर वाला आवेदन कर सकता है।

इस फ्रेंचाइजी के लिए शहर या गांव से कॉलेज यूनिवर्सिटी या केंद्र से कोई भी आवेदन कर सकता है। इसके लिए आपकी उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए और कम से कम 8वीं कक्षा पास होनी चाहिए। फ्रेंचाइजी के लिए डाक विभाग और आपकी बीच एक एग्रीमेंट होगा, जिसे आपको मंजूर करना होगा। यहां पर आपको सिक्योरिटी डिपॉटि के रूप में 5000 रूपये की National Saving Certificate (NSC) फी जमा करनी होगी।

Counter services के मुख्य कार्य

पोस्ट ऑफिस Counter services के मुख्य कार्य निम्न प्रकार से हैं

  • डाक टिकट
  • रजिस्टर पोस्ट
  • स्पीड पोस्ट
  • स्टेशनरी की काउंटर
  • छोटा बचत खाता खोलना
  • पोस्टल लाइफ इन्शुरेन्स
  • बिल अमाउंट कलेक्ट करना
  • मनी आर्डर की बुकिंग
  • फिक्स्ड डिपाजिट और PPF Account खोलना

2. Postal Agent Franchise (पोस्टल एजेंसी)

यह एक सामान्य postal franchise है, जिसमें आपको सिर्फ डाक टिकट और अन्य स्टेशनरी सामान को लोगों तक पहुंचाना होता है। इसके लिए आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा, जिसके आधार पर आपका चयन किया जाता है। हालांकि इमसें न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नही होती है, और न ही एग्रीमेंट बनाने की आवश्यकता होती है। 

पोस्ट ऑफिश एजेंट बनना काफी आसान होता है, और इसका काम भी आसान होता है। इससे आपको अच्छी कमाई भी मिल जाती है।

जानने योग्य महत्वपूर्ण बातें

  • फ्रेंचाइजी फीस नही लगती
  • सिक्योरिटी डिपॉजिट नही करना
  • उम्र 18 वर्षीय से ऊपर होनी चाहि
  • बिना पढ़ा-लिखा भी एप्लाइ कर सकता है
  • Memorandum Signature की आवश्यकता नही

नोट: अब तक आप Post Office Franchise Hindi में जानकारी प्राप्त कर चुके है, चलिए अब हम यह भी जान लेते है कि पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? इसके लिए आर्टिकल को लगातार फ्रेश मुड से पढ़ते रहे।

3. फ्रैंचाइजी के लिए आवेदन कैसे करे?

पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के लिए आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए, जैसे 18 वर्षीय उम्र, 8वीं कक्षा पास और कुछ डॉक्यूमेंट्स। इस तरह के एजेंट बनने के लिए आपको अपने शहर के मुख्य पोस्ट ऑफिस में जाकर पूरी जानकारी लेनी होगी। और उसके आपको एक फॉर्म भरना होगा, हालांकि इस फॉर्म को आप अपनी भाषा में भर सकते है।

यह फॉर्म आपको ऑनलाइन Indiapost.gov.in वेबसाइट पर मिल जाएगा, जिसे आप प्रिंट के रूप में निकालकर भर सकते है। और उसके बाद इसे डाक विभाग में जमा करवा सकते है। ध्यान दे कि Post Office Franchise 2022 Apply Online नही कर सकते है, इसके लिए आपको अपने शहरी डाक विभाग में जाना होगा।

फॉर्म भरकर Indian post office franchise के लिए एप्लाई करने के 14 दिनों के अंदर आपका डिविजनल हेड द्वारा सेलेक्शन किया जाएगा। यह हेड देखेगा कि आप पोस्ट ऑफिस कैसे चलाएंगे और कहां पर चलाएंगे? अगर सब चीजे उचित होगी तो आपको एक एग्रीमेंट मंजूर करना होगा। जिसके बाद आपको यह फ्रेंचाइजी मिल जाएगी और आप पोस्ट ऑफिस एजेंट बन जाएंगे।

ध्यान दे कि अगर आपके परिवार का सदस्य पोस्ट विभाग में है तो आपको फ्रेचाइजी नही मिलेगी। और फ्रेंचाइजी खोलने की अनुमति ग्राम पंचायतो को भी नही दी जाती है, जो पंचायत सेवा योजना के तहत पंचायत सेवा केंद्र में मौजूद हैं।

पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के बाद आपको एक अप्रूवल लेटर मिल जाएगा। उसके बाद आप अपने अकाउंट को ऑनलाइन ऑपरेट कर सकते हैं

4. आवश्यक दस्तावेज क्या क्या है?

किसी भी तरह का सरकारी औपचारिक काम प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत अवश्य होती है। अगर आप Post Office Agency के लिए भी फॉर्म भरते है तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की जरूरत होगी।

  1. मूल निवास प्रमाण पत्र
  2. दसवीं पास मार्कशीट
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. पास्पोर्ट साइज फोटो
  5. राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र
  6. आधार कार्ड
  7. पैन कार्ड
  8. जमानतदार का आधार कार्ड
  9. बैंक डायरी

6. पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी के लिए आवश्यक फीस कितनी है?

इस तरह की फ्रेंचाइजी के लिए आपको सेक्यूरिटी डिपॉजिट फीस जमा करनी ही होगी, और यह फीस 5000 रूपयें होती है। इसके बाद आपको अपरोवल मिलेगा, लेकिन पोस्ट ऑफिस के लिए आपको 1 से 2 लाख रूपयें का निवेश करना होगा। और हर महिने लगभग 50,000 रूपयें तक का बिजनेस करना होगा

क्योंकि यह सर्टिफिकेट आपको केवल 1 वर्ष के लिए दिया जाता है। अगर आप अच्छे से काम करते है तो अगले वर्ष आपको 3 वर्षीय सर्टीफिकेट दिया जाएगा। और उसके बाद अगर आपका काम लगातार अच्छा चलता रहता है तो आपको आगे भी मंजूरी दी जाएगी, अन्यथा नही।

7. पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के लिए आवश्यक योग्यताए?

Indian Post Office Franchise खोलने के लिए या पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के लिए विशेष शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नही होती है। हालांकि यहां पर आपके पास 8वीं पास मार्कशीट होनी चाहिए, और आपको पढ़ना-लिखना आना चाहिए। इसके अलावा अगर आपका कंप्यूटर का ज्ञान और सर्टिफिकेट है तो यह बहुत ही अच्छा है।

  1. कम से कम 8वीं कक्षा पास
  2. 18 वर्ष से अधिक उम्र
  3. पढ़ना-लिखना आना चाहिए
  4. कंप्यूटर का ज्ञान (वैकल्पिक)

8. पोस्ट ऑफिस एजेंट नियम क्या हैं?

  • Indian Post Office Franchise के लिए नियम भारतीय दंड संहिता के अनुसार है।
  • डाकघर या पोस्ट ऑफिस के नियम और शर्ते भारतीय कानून द्वारा शासित हैं। इनसे संबंधित कोई भी विवाद न्यानलय के अधिकार क्षैत्र के अधीन होगा।

यह डाकघर के कुछ विशेष नियम है, जिनका आपको पहले ही ध्यान रखना होगा। हालांकि इसके अलावा भी अन्य नियम हैं, जो आप अपने डाक विभाग से पता कर सकते है।

9. पोस्ट ऑफिस एजेंट का चयन कैसे होता है?

पोस्ट ऑफिस एजेंट के चयन की प्रक्रिया 14 दिनों के भीतर पूरी होती है। मतलब आपके आवेदन करने के बाद शहरी डाकघर विभाग आपके पोस्ट ऑफिस की जगह का अवलोकन करेंगे और साथ आपकी योग्यता का अवलोकन करेंगे। आपके पास पोस्ट ऑफिस चलने के लिए एक बिजनेस प्लान होना चाहिए, ताकि आप उन्हे आकर्षित कर सके।

डाक विभाग के हेड द्वारा अवलोकन करने के बाद आपका एक पहचान पत्र बनेगा, जिसमें डाक एजेंट का नाम और फोटो होगा। यह पहचान आईडी आपको विभागीय प्रमुख दफ्तर से मिल जाएगा। और यह आईडी 7 दिनों में बनकर तैयार हो जाती है। इस तरह Post Office Agent Process Hindi में होती है।

10. फ्रेंचाइजी की मॉनिटरिंग और कार्यशैली

ध्यान दे कि अगर आप फ्रेंजाइजी लेते है और पोस्ट ऑफिस एजेंट बनते है तो आपके पोस्ट आउटलेट पर समय-समय पर डाक विभाग के इंस्पेक्टर द्वारा निगरानी रखी जाएगी। और यह देखा जाएगा कि आप किस तरह कार्य कर रहे है।

इसलिए आपको सही तरह से कार्य करना अनिवार्य है, अन्यथा एक वर्ष के बाद आपकी फ्रेंचाइजी को बंद किया जा सकता है।

11. पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी से पैसे कैसे कमाए?

पॉस्ट ऑफिस के द्वारा आप कमीशन के रूप में पैसे कमा सकते है। मतलब आप जो भी काम करेंगे, उस काम के लिए सरकार द्वारा एक निश्चित कमीशन होता है, जो आपको मिलेगा। जैसे-

सेवाएं मिलने वाला कमीशन
पंजीकृत आर्टिकल की बुकिंग के लिए 3 रूपयें
स्पीड पोस्ट आर्टिकल की बुकिंग के लिए 5 रूपयें
100 से 200 रूपयें के मनी ऑर्डर बुकिंग के लिए 3.5 रूपयें
200 रूपयें से अधिक मूल्य वाले मनी ऑर्डर की बुकिंग के लिए 5 रूपयें
प्रतिमहिने 1000 से अधिक रजिस्ट्री या स्पीड पोस्ट आर्टिकल के लिए 20% अतिरिक्त कमीशन
पोस्टेज स्टैंप, पोस्टल स्टेशनरी और मनी ऑर्डर फार्म की बिक्री पर सेल अमांउट पर 5% कमीशन
रेवेन्यू स्टांप आदि की बिक्री पर पोस्ट विभाग को हुई कमाई का रिटेल प्रोफिट 40% कमीशन

12. Post Office Agency से कितना कमीशन मिलता है?

उपरोक्त सारणी के आधार पर आपको सभी कार्यों के लिए कमीशन मिलता हैं। और अगर आप प्रतिदिन औसतन 50 सेल्स करते है तो आपको हर रोज लगभग 1075 रूपयें की कमाई होती है।

इस तरह आप एक महिने में 30,000 हजार रूपये के आस-पास कमा सकते है। अत: पैसे कमाने का यह काफी अच्छा आइडिया है।

13. Indian Post Office Franchise के लिए आवश्यक इंवेस्टमेंट?

कई लोग Investment For Post Office Franchise के बारे में भी जानना चाहते है। दोनों प्रकार की Post Office Franchise (Hindi) के लिए इंवेस्टमेंट अलग-अलग होता है। लेकिन अगर आपके पास स्वयं की जमीन है तो आपको ज्यादा निवेश करने की आवश्यकता नही होगी। 

पोस्ट ऑफिस खोलने के लिए आपको थोड़ी सी ब्रांड सिक्यूरिटी फीस देनी होगी और उसके बाद ऑफिस बनाने के लिए कुछ निवेश करना होगा। इस तरह आप कुछ ही इंवेस्ट से पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी खोल सकते है।

देखा जाए तो औसतन दोनो फ्रेंचाइजी (Counter Service और Postal Agencies) में ऑफिस बनाने के लिए 50,000 से 1 लाख रूपयें की आवश्यकता होगी, और सेक्यूटरिटी के लिए आपको 5 से 10 हजार रूपयें की आवश्यकता होगी।

14. पोस्ट ऑफिस एजेंट के लिए आवश्यक प्रशिक्षण और पुरस्कार?

एक अच्छी बात है कि पोस्ट ऑफिस विभाग चयनित हुए पोस्ट ऑफिस एजेंट को ट्रेंनिग और अवार्ड देते हैं, ताकि वे बेहतरिन प्रदर्शन कर सके। जिन लोगों का सिलेक्शन फ्रेंचाइजी एजेंट के लिए होता है उन्हे पोस्ट विभाग की तरफ से ट्रेनिंग दी जाती है, और यह ट्रेनिंग उसी इलाके के सब डिवीजन डिपार्टमेंट में दी जाती है।

इस ट्रेनिंग के अलावा फ्रेंचाइजी पॉइंट ऑफ सेल सॉफ्टवेयर का उपयोग करके आपको बारकोड स्टिकर भी दिया जाता है। जो पोस्ट ऑफिस एजेंट अच्छा प्रदर्शन करता है, उस फ्रेचाइजी आउटलेट को अवार्ड भी दिया जाता है।

पोस्ट ऑफिस की ट्रेनिंग और अवार्ड इसलिए दिये जाते है ताकि डाकघर का कार्य इसी तरह से चलता है। क्योंकि एडवांस समय के साथ हमारी डाकघर संस्कृति लुप्त होती जा रही है, जिसे बचाना आवश्यक है।

15. पोस्ट ऑफिस एजेंट बनने के बाद क्या करें?

उमीद है कि आप उपरोक्त जानकारी द्वारा आसानी से पोस्ट ऑफिस फ्रेंचाइजी प्राप्त कर लेंगे और एजेंट भी बन जाएंगे। लेकिन post office agency लेने के बाद क्या करना चाहिए। देखा जाए तो सर्वप्रथम कार्य प्रमोट करने का ही होता है। आप अपने डाकघर के लिए एक बार विज्ञापन दे सकते है, ताकि लोगों को आपके ऑफिस का पता चले।

इसके बाद आपको ज्याद कुछ करने की आवश्यकता नही होती है, क्योंकि सभी को पॉस्ट ऑफिस के लाभ की पूरी जानकारी होती है। और उन्हे पता होता है कि यह सरकार के अंडर में काम होता है, अत: वे आसानी से आप पर विश्वास भी कर लेते है। इसके अलावा पोस्ट ऑफिस की जिम्मेदारी केंद्र सरकार के पास ही होती है।

पोस्ट ऑफिस एजेंट RD अकाउंट खुलाकर बड़ी कमाई प्राप्त कर सकते है, और इसके आप फिल्ड में भी उतर सकते है। अन्यथा ऑफिस में आने वाले व्यक्तियों को RD Account के बारे में जानकारी देकर भी जोड़ सकते है।

ये भी पढ़े

लेबर कांट्रेक्टर कैसे बने?

30 पैसिव इनकम आईडिया जो आपको अमीर बना सकते हैं

रोज 100 रुपये बचाकर करोड़पति करोड़पति कितने दिन में बन सकते हैं?

30 विज्ञापन आईडिया जो आपका बिजनेस और कमाई कई गुना बढ़ा सकते हैं

निष्कर्ष

इस लेख में हमने पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? (Post office franchise kaise le) से संबंधित विस्तृत जानकारी आपके सामने प्रस्तुत की है। अब आप आसानी से पोस्ट ऑफिस एजेंट बन सकते है। लेकिन एजेंट बनने से पहले आप डाक विभाग से नियम व शर्तों को अच्छे से समझ ले।

2 thoughts on “पोस्ट ऑफिस एजेंट कैसे बने? Post office franchise kaise le 2022”

Leave a Comment

error: Content is protected !!